ALL करोना वायरस राजनीति देश/विदेश बस्ती मण्डल उत्तर प्रदेश आयुर्वेद/जीवनशैली सम्पादकीय जय हो जनता की धर्म/,ज्योतिष वीडियो
24 घंटे ठेला चलाकर पहुंचे दिल्ली से बस्ती अभी बाकी है बस्ती से दरभंगा
March 30, 2020 • कपीश मिश्र • करोना वायरस

आज की कहानी है दिल्ली में रहनेवाले दो युवकों की जो दिल्ली में ठेला चलाते थे  बिहार दरभंगा के मनोहर कुमार राय और मुकेश कुमार का दिल्ली में ठेला ही जीवन यापन  का जरिया है। 25 मार्च को पूरा देश लॉकडाउन होने के कारण उनका जीवन थम गया। वह रोज कमाते और खाते थे। बंद होने के बाद उनकी जेब में न तो पैसे हैं और न ही खाने के लिए राशन लेकिन अपने अपने जीवन को लेकर वे फिक्रमंद जरूर थे।

इसलिए 26 को ठेला लेकर दरभंगा के लिए दोनों निकल पड़े। रविवार को बस्ती पहुंचने पर मनोहर कुमार ने बताया कि दिल्ली में काम बंद हो जाने के बाद कुछ खाने के लिए बचा था। दिल्ली सरकार की सुविधा लेने के लिए वहां का आधार कार्ड मांगा जा रहा था।

दिल्ली के बाहर के लोगों को कोई सुविधा नहीं दी जा रही है। हम लोग 24 घंटे ठेला चलाकर यहां पहुंचे। यूपी में आने के बाद लोगों की ओर से खाने पीने को मिल रहा है। कई हजार लोग यूपी बार्डर पर फंसे हुए हैं।

 भूखे मरने के बजाय अपने परिवार के बीच मरना अच्छा है। इन लोगों का कहना है कि जिस तरह की स्थिति है, लगता है कि तीन चार महीने पर कोई काम दिल्ली में मिलेगा। वहां रखकर भूख से मरना नहीं चाहते हैं। रोकिए नहीं अभी पांच सौ किमी और ठेला चलाना है।