ALL करोना वायरस राजनीति देश/विदेश बस्ती मण्डल उत्तर प्रदेश आयुर्वेद/जीवनशैली सम्पादकीय जय हो जनता की धर्म/,ज्योतिष वीडियो
बस्ती के ऑनलाइन कारोबारी के एकाउंट से पेटीएम अपडेट के नाम पर 5300 रुपए निकाले
March 20, 2020 • कपीश मिश्र • देश/विदेश

इस समय साइबर ठग नए-नए तरीकों से जनता को ठगने के लिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रहे हैं। लोगों के एकाउंट से पैसे कट जा रहे हैं और जब उनको इसका अंदाजा लग रहा है तब तक वह ठगी के शिकार हो चुके होते हैं। कई ऐसे एप्लीकेशंस भी आ चुके हैं जिनका प्रयोग ये ठगी के लिए कर रहे हैं। स्क्रीन शेयरिंग एप एनीडेक्स, क्विक सपोर्ट, एंड्रॉयड, टीम व्यूअर के बारे में आपने सुना ही होगा। अब साइबर अपराधी इन एप्स का दुरुपयोग कर लोगों के साथ ठगी कर रहे हैं। इनके माध्यम से साइबर फ्रॉड करने वाले दूर से ही लोगों की डिवाइस को कंट्रोल करके उनका सारा डाटा चुरा लेते हैं। अनजाने में ही सही लोग खुद कुछ ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जिससे ठग उन्हें आसानी से अपना शिकार बना लेते हैं।

ताज़ा मामला बस्ती जिले के इंफॉर्मेशन सेंटर राधे इंफॉर्मेशन का है। जिसके संचालक के अकाउंट से दो बार में 5300 रुपए निकाल लिए गए ।

हुए ये की उनके पास एक नंबर से फोन आया paytm अपडेट करने के लिए ,जिस पर  लिएकोई जिसकेअभिषेक शर्मा बोल रहा था। उनको एक एप लोड करने के लिए कहा गया।उन्होंने ऐप लोड कर जब उसपर जानकारी डालनी शुरू की ।इसके बाद उनके दो एकाउंट से  कुल 5300 रुपए निकाल लिए गए ।  उनके एकाउंट में उस समय इतने ही पैसे थे कुछ ही देर पहले उन्होंने 15000 के आसपास का लेनदेन कर लिया था। नहीं तो ओ भी चला जाता।

ट्रू कॉलर में नंबर अभिषेक शर्मा पेटीएम कस्टमर केयर के नाम से रजिस्टर था।

स्क्रीन शेयरिंग एप इस्तेमाल करने में सावधानी बरतें

टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट बताते हैं स्क्रीन शेयरिंग एप इस्तेमाल करने में सावधानी बरतें। अगर कोई अनजान व्यक्ति स्क्रीन शेयरिंग एप इंस्टाल करने को कहता है तो कभी न करें और न कभी अपने स्क्रीन शेयरिंग का पॉसवर्ड किसी अनजान व्यक्ति को दें।

न बातों का रखें ध्यान

टीम व्यूअर स्क्रीन शेयरिंग एप्लीकेशन है लेकिन साइबर ठग इस वक्त इनका भी इस्तेमाल करने लगे हैं। अगर कोई आपसे लिंक के जरिए यह ऐप डाउनलोड करने को कहता है तो कभी भी जल्दबाजी में ऐसा न करें। क्योंकि जैसे ही आप इसे डाउनलोड करेंगे साइबर ठग आपके डिवाइस में टीम व्यूअर सॉफ्टवेयर या ऐप डाउनलोड कर आपके डिवाइस को एक्सेस कर लेते है। इससे आपकी सारी जानकारी उनके पास आसानी से आ जाएगी।