ALL करोना वायरस राजनीति देश/विदेश बस्ती मण्डल उत्तर प्रदेश आयुर्वेद/जीवनशैली सम्पादकीय जय हो जनता की धर्म/,ज्योतिष वीडियो
भूटान से वापस आए कुल 404नागरिकों को कोविड 19 मिला पॉजिटिव भेजा गया आसाम के ऐसोलेशन वार्ड में
March 12, 2020 • कपीश मिश्र • बस्ती मण्डल
प्रविष्टि तिथि: 10 MAR       by PIB Delhi
 

कैबिनेट सचिव ने देश में कोविड-19 मामलों की स्थिति, ऐहतियाती कार्यों, तैयारियों और प्रबंधन की समीक्षा के लिए संबंधित मंत्रालयों / विभागों के सचिवों के साथ आज यहां एक उच्च स्तरीय बैठक की।

भारत आने वाले सभी अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को अपने स्वास्थ्य की स्वयं निगरानी करने और अनुशंसित ‘क्या करें या क्या ना करें’ निर्देशों का पालन करने के लिए एडवाइजरी जारी की गई है क्योंकि दुनिया भर के 100 से अधिक देशों में कोविड​​-19 के मामले उजागर हुए हैं। इन देशों के यात्री या हाल में विदेश गए लोग वहां प्रवास या हवाईअड्डों पर आने-जाने के दौरान कोविड-19 से पहले से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से कोरोना वायरस से संक्रमित हो सकते हैं।

एडवाइजरी में चीन, हॉन्गकॉन्ग, कोरिया, जापान, इटली, थाईलैंड, सिंगापुर, ईरान, मलेशिया, फ्रांस, स्पेन और जर्मनी से आने वालों यात्रियों को आगमन की तिथि से लेकर अगले 14 दिनों की अवधि के लिए खुद को सबसे अलग-थलग कर लेने और नियोक्ताओं को भी इस अवधि के दौरान ऐसे कर्मचारियों से घर से काम करने की सुविधा देने की सलाह दी गई है।

पहले से ही जारी निर्देशों के अलावा, फ्रांस, जर्मनी, और स्पेन के नागरिकों को 11.03.2020 को या उससे पहले दिए गए सभी नियमित वीजा (ई वीजा सहित) और जिन्होंने अभी तक भारत में प्रवेश नहीं किया हो, उनके वीजा निलंबित हैं। सभी विदेशी नागरिकों को दी गई नियमित वीजा (ई वीजा सहित) जो इन देशों में 1.2.2020 को या उसके बाद यात्रा किए हों और जिन्होंने अभी तक भारत में प्रवेश नहीं किया है, उनके वीजा भी निलंबित हैं। भारत में पहले से मौजूद सभी विदेशियों के वीजा की वैधता बनी हुई है और यदि वे अपने वीज़ा के विस्तार / रूपांतरण आदि का विकल्प चुनते हैं या वे कोई दूतावास संबंधी सेवा चाहते हैं तो इसके लिए वे ई-एफआरआरओ मॉड्यूल के माध्यम से निकटतम एफआरआरओ / एफआरओ से संपर्क कर सकते हैं। इस बारे में ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन (बीओआई) द्वारा एक अधिसूचना जारी की जा रही है।

इसके अलावा, भारत के नागरिकों के लिए यात्रा पर पहले से जारी सलाहों को जारी रखने के साथ ही, नागरिकों को फ्रांस, स्पेन और जर्मनी की यात्रा करने से परहेज करने की दृढ़ता से सलाह दी जाती है।

देश में अब तक कोविड-19 के कुल पचास (50) मामले की पुष्टि हुई है। कल घोषित किए गए 44 पॉजिटिव मामलों के बाद बेंगलुरू से तीन (3) (अमेरिका, दुबई से आने वाली यात्री), हीथ्रो के जरिए अमेरिका से आने वाले बेंगलुरु से एक अन्य, और पुणे से (2) (दुबई से आने वाली यात्री) नए मामले सामने आए हैं। कुल 3 लोगों (केरल से पहले के मामलों) को अब छुट्टी दे दी गई है। इन 50 मामलों में से 34 मामले भारतीयों से जुड़े हैं और 16 इतालवी हैं। इसके अलावा, मीडिया में कल मुर्शिदाबाद और लद्दाख से हुई दो मौतों की जो चर्चा थी उन दोनों में कोविड-19 की जांच निगेटिव पाई गई।

अब तक 1400 से अधिक लोगों को निगरानी में रखा गया है। इसके अलावा, भूटान में अमेरिकी नागरिकों के संपर्क में आने वाली 404 भारतीय नागरिकों में कोविड​-19 की जांच पॉजिटिव पाई गई है और इन्हें असम में निगरानी में रखा गया है।

इसके अतिरिक्त, आज ईरान से 58 लोगों का पहला जत्था भारत पहुंचा जिसमें 25 पुरुष, 31 महिलाएं और 2 बच्चे शामिल हैं। आईएएफ सी-17 की उड़ान आज सुबह 9.27 बजे आई। सभी लोगों की जांच की गई और अभी उनकी हालत स्थिर है।