ALL करोना वायरस राजनीति देश/विदेश बस्ती मण्डल उत्तर प्रदेश आयुर्वेद/जीवनशैली सम्पादकीय जय हो जनता की धर्म/,ज्योतिष वीडियो
कोरोना का कर्फ्यू :- बस्ती सहित 15 जिलों में लगेगी कर्फ्यू रात 12 बजे से लागू
April 8, 2020 • कपीश मिश्र • करोना वायरस

लखनऊ- : लॉकडाउन के बाद भी कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए योगी सरकार ने लखनऊ सहित 15 जिलों को पूरी तरह से सील करने का फैसला किया है। मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने बताया कि जिन 15 जिलों में अधिक केसेज है उन्हें लॉकडाउन अवधि तक पूरी तरह से सील किया जाएगा।

जो जिला  पूरी तरह से सील किया जाएगा उसमें लखनऊ के अलावा शामली , मेरठ , बरेली , बुलंदशहर , लखनऊ , आगरा , ग़ाज़ियाबाद , नॉएडा , महाराजगंज , सीतापुर , सहारनपुर , बस्ती , फ़िरोज़ाबाद और कानपुर शामिल हैं।

केवल ऑनलाइन होगी डिलवरी

मुख्य सचिव ने कहा कि प्रदेश में अब तक 340 से अधिक केस कोरोना पॉजीटिव के पाए गए हैं। इसमें तबलीगी जमात से जुड़े लोगों की बड़ी संख्या है। लिहाजा अधिक मामलों वाले 15 जिलों को पूरी तरह सील किया जाएगा। यहां जरूरी सामनों की भी पूरी तरह से होम डिलीवरी की जाएगी।
रात 12 बजे से 15 जिले होंगे पूरी तरह सील कर दििया जाएगा।

सामानों की होगी होम डिलिवरी

उत्तर प्रदेश में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए योगी सरकार बड़ा फैसला लिया है. दरअसल, योगी सरकार ने यूपी सरकार ने 15 जिलों को पूरी तरह से सील कर दिया है. यह आदेश आज रात 12 बजे से लागू हो जाएगा।

इन जिलों में 13 अप्रैल तक कोई भी आवाजाही नहीं होगी. यहां तक की सामानों की होम डिलिवरी होगी।

 इन जिलों को 13 अप्रैल तक पूरी तरह सील कर दिया गया है।इस दौरान कोई दुकानें नहीं खुलेंगी, सिर्फ आश्वयक वस्तुओं की होम डिलिवरी होगी। इसके साथ ही केवल कर्फ्यू पास वालों को घर से निकलने की इजाजत दी जाएगी।

किसी जिले में कितने केस

उत्तर प्रदेश में कोरोना के 328 मामले सामने आए हैं, जिसमें 281 एक्टिव केस है. तीन लोगों की मौत हो चुकी है और 21 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं. गौतमबुद्ध नगर में कोरोना के 61, आगरा में 49, मेरठ में 25, गाजियाबाद में 23, लखनऊ में 21, कानपुर में 16, शामली में 14, सहारनपुर में 12 केस सामने आ चुके हैं. इसके अलावा सीतापुर में 8, वाराणसी में 7, महाराजगंज में 6, बरेली में 6, लखीमपुर खीरी में 5, गाजीपुर में 5, बस्ती में 5 केस सामने आ चुके हैं।

आपात काल के लिए 

112 पर फोन करें इमरजेंसी में

खाद्य और रसद की समस्या के लिए

1070 पर फोन करें।

***************************************