ALL करोना वायरस राजनीति देश/विदेश बस्ती मण्डल उत्तर प्रदेश आयुर्वेद/जीवनशैली सम्पादकीय जय हो जनता की धर्म/,ज्योतिष वीडियो
सिद्धार्थनगर में मिले दो संदिग्ध , लखनऊ से इलाज करवाकर वापस आया था
March 21, 2020 • कपीश मिश्र • करोना वायरस

पहला केस

डुमरियागंज नगर पंचायत में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध के मिलने की सूचना के बाद तहसील प्रशासन हरकत में आ गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम की मदद से जिला अस्पताल भेजा गया जहां जांच के बाद सामान्य बुखार होने की बात सामने आई। इसके बाद उसे दवा देकर घर भेज दिया गया। डुमरियागंज नगर पंचायत के एक वार्ड निवासी 65 वर्षीय वृद्ध की तबीयत एक सप्ताह पूर्व खराब हुई थी।

इलाज कराने के लिए घर वाले उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर ले गए थे। हालत गंभीर देखकर भर्ती कर दिया गया था। जिस वार्ड में वृद्ध का इलाज चल रहा था, उसी वार्ड में दो मरीज भर्ती थे। जांच के दौरान वार्ड में भर्ती दोनों मरीज कोरोना वायरस संक्रमित मिले थे।

बृहस्पतिवार को लखनऊ ट्रामा सेंटर इलाज के बाद से अपने घर आया था जिसकी सूचना डुमरियागंज एसडीएम त्रिभुवन को हुई।
एसडीएम ने तत्काल डुमरियागंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक डॉ. मुस्तकीम अंसारी को जानकारी दी।

उसके बाद संदिग्ध मरीज के घर के अगल-बगल पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई। मौके पर एसडीएम त्रिभुवन, डॉ. मुस्तकीम अंसारी सहित अन्य अधिकारी मरीज के घर के बगल पहुंचे। उसके बाद तत्काल 108 एंबुलेंस से पत्नी और पुत्र को भी संदिग्ध बताते हुए जिला अस्पताल इलाज के लिए भेजा गया। जिला अस्पताल में जब चिकित्सकों ने देखा तो कोरोना का कोई लक्षण नहीं दिखा। सामान्य बुखार पाया गया। इसके बाद दवा देकर उन्हें घर भेज दिया गया है।

दूसरा केस

इस बारे में डुमरियागंज नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक डॉ. मोहम्मद मुस्तकीम अंसारी ने बताया कि एसडीएम ने फोन कर बताया कि शाहपुर वार्ड नंबर 8 में कोरोना वायरस संदिग्ध मरीज की जानकारी दी। उसके बाद मौके पर पहुंचकर मरीज को जांच के लिए जिला चिकित्सालय भेजा गया है।

कोरोना के संदिग्ध मरीज की रिपोर्ट निगेटिव
बढ़नी ब्लॉक के एक गांव में भी कोरोना से ग्रसित एक संदिग्ध मिला है। स्वास्थ्य विभाग की टीम उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंची जहां जांच के दौरान वह निगेटिव मिला। मरीज दो दिन पहले ही मुंबई से अपने गांव आया है। उसकी उम्र 20 वर्ष बताई जा रही है।

इस संबंध में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बढ़नी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. श्रवण कुमार तिवारी ने बताया कि अब वह ठीक है। अपने घर वापस आ गया है।